तमाम मुश्किलों के बाद सविता पूनिया ने हासिल किया अपना मुकाम

0
323
Savita Poonia

भारतीय महिला हॉकी टीम की गोलकीपर सविता पूनिया के आज टीम की अहम सदस्य है। लेकिन उनका टीम में चयन इतना आसान नहीं था। उनकी भारतीय टीम में चुने जाने की कहानी भी काफी रोचक है। कभी गांव से सिरसा प्रैक्टिस के लिए जाते समय लड़के छेड़ते और प्रताड़ित करते। 

प्रैक्टिस के लिए 30 किलोमीटर की दूरी तय करती थी। लेकिन इन कठिनाइयों से परेशान न होकर सविता ने अपना पूरा ध्यान खेल पर ही केन्द्रित रखा। इसका नतीजा यह निकला कि सविता ने भारतीय टीम में खेलने का अपना सपना पूरा किया। 

सविता के पिता महेन्द्र पूनिया ने आगे कहा कि ये लड़के मेरी बेटी को अपने सपनों को पूरा करने से वंचित नहीं कर पाए। उसका (सविता) का सपना भारत के लिए खेलना था। उसने ऐसा किया और वह अब देश के लिए खेल रही है। मेरी बेटी का हर प्रदर्शन उन लड़कों के मुंह पर तमाचा है।

LEAVE A REPLY