भारत की सबसे कामयाब महिला तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने टी-20 क्रिकेट से लिया सन्यास

0
359
झूलन गोस्वामी, Jhulan Goswami, Women's Cricket

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की अहम सदस्य और तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया है। बीसीसीआई ने भी झूलन के सन्यास की पुष्टि कर दी है। झूलन अब सिर्फ वनडे में खेलना जारी रहेंगी। टेस्ट क्रिकेट से वह पहले ही सन्यास लें चुकी है।

झूलन ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच 12 वर्ष पहले 5 अगस्त, 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। यह भारतीय महिला क्रिकेट टीम का भी पहला अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच था। तब से लेकर अब तक झूलन 68 टी-20 मैच खेल चुकी हैं। 

झूलन ने 68 टी-20 मैचों में 21.94 की औसत से गेंदबाजी करते हुए 56 विकेट हासिल किए। इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 5/11 का रहा। इस फॉर्मेट में वह एक बार 5 विकेट ले चुकी हैं। वैसे झूलन भारत की एकमात्र महिला गेंदबाज हैं जिन्होंने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में एक पारी में पांच या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं। 

सन्यास पर हैरानी क्यूं
कुछ लोगों को झूलन के इस समय अचानक सन्यास लेने पर हैरानी हो रही है। उन्होंने यह फैसला ऐसे समय में लिया है जब वेस्टइंडीज में आयोजित होने वाले टी-20 टूर्नामेंट के आयोजन में तीन महीने ही बचे हैं। 

झूलन वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली महिला गेंदबाज हैं। उन्होंने 169 मैच खेलकर 21.77 की औसत से कुल 203 विकेट लिए हैं। वहीं बात टेस्ट क्रिकेट की करें तो इसमें झूलन ने 10 टेस्ट मैच खेलते हुए 16.62 के औसत से कुल 40 विकेट लिए हैं। 

LEAVE A REPLY