पीएचएफ को मिल गया सहारा, अब वर्ल्ड कप में भाग ले सकेगी पाकिस्तान हॉकी टीम

Harendra Singh, Indian women hockey team, Hockey India, Hockey news, Junior National Hockey Championship, हॉकी,

भारत में आयोजित होने वाले हाॅकी वर्ल्ड कप में पाकिस्तान टीम के खेलने को लेकर छाए  अनिश्चितताओं के बादल छंट गए हैं। पैसे की तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) को नया स्पॉन्सर मिल गया है। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) की फ्रेंचाइजी पेशावर जालमी के मालिक जावेद अफरीदी ने पीएचएफ के साथ प्रायोजन करार किया है। अफरीदी और पीएसएल के बीच यह करार 2020 तक प्रभावी रहेगा। हालांकि दोनों पक्षों की ओर से ही प्रायोजन राशि का खुलासा नहीं किया गया है। 

पीएचएफ के सचिव शाहबाज अहमद ने बताया कि इस प्रायोजन करार में सीनियर और जूनियर टीम के सभी अंतरराष्ट्रीय दौरों के अलावा घरेलू हाॅकी भी शामिल है। स्पॉन्सर मिलने से पीएचएफ को नया जीवनदान मिला है। यह हमारे लिए बड़ी राहत की बात है। इसी के साथ यह भी तय हो गया है कि पाकिस्तान टीम वर्ल्ड कप के लिए भारत जाएंगी। ओडिशा के भुवनेश्वर में हॉकी वर्ल्ड कप का आयोजन 28 नवंबर से 16 दिसम्बर तक होगा। 

इससे पहले पीएचएफ ने बयान दिया था कि अगर सरकार आठ करोड़ रुपए का अनुदान नहीं देती है तो हॉकी वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के भाग लेना बेहद मुश्किल होगा। सरकार के अलावा ही पीएचएफ ने मदद के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के सामने भी हाथ फैलाए थे। पीएचएफ की मांग को ठुकराते हुए सरकार ने अनुदान देने के हामी नहीं भरी थी। वहीं पीसीबी ने तो खुलेआम ऐलान कर दिया था कि वह पीएचएफ की कोई मदद नहीं करेगा। 

LEAVE A REPLY